एनआरसी लगाकर घुसपैठियों को चुन चुन कर बाहर निकालने का काम भारतीय जनता पार्टी करेगी : अमित शाह

by -

सत्ता की लालच में हेमंत सोरेन कांग्रेस की गोद में बैठकर मुख्यमंत्री बनने निकले हैं

फोटो साभार : एएनआई 

जमशेदपुर :

इस देश से घुसपैठिए जाने चाहिए या नहीं। माताएं, बहनें बताएं। झारखंड के अंदर से घुसपैठ जाना चाहिए या नहीं जाना चाहिए। लेकिन यह कांग्रेस पार्टी कहती है कि घुसपैठिए को मत निकालो। अरे राहुल बाबा आपको जो बोलना है बोलो। यह भारतीय जनता पार्टी की सरकार है। नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं। मैं आज आपको कह कर जाता हूं। 2024 में जब आपसे वोट मांगने आउंगा उससे पहले पूरे देश के अंदर एनआरसी लगाकर घुसपैठियों को चुन चुन कर बाहर निकालने का काम भारतीय जनता पार्टी करेगी।

सारे राष्ट्रीय मुद्दे झारखंड के चुनाव के अंदर इतने ही महत्वपूर्ण हैं क्योंकि झारखंड वाले भारत को चाहते हैं, झारखंड वाले भारत की सुरक्षा को चाहते हैं, झारखंड वाले आतंकवाद को मिटाना चाहते हैं, झारखंड वाले नक्सलवाद को मिटाना चाहते हैं, और झारखंड वाले चाहते हैं कि भव्य राम लला का मंदिर अयोध्या में बने। ये सारे काम तभी भी हो सकते हैं। जब आप नरेंद्र मोदी जी के हाथ को मजबूत करेंगे। हमारे गिलुवा जी को और भगत जी को जिताएंगे।

ये बातें अमित शाह ने चक्रधरपुर में आयोजित जनसभा में कही।


अमित शाह ने कहा कि पांच साल के अंदर मोदी सरकार और रघुवर सरकार ने नक्सलवाद को उखाड़ कर फेंका और झारखण्ड को विकास का रास्ता प्रदान किया। यह काम भारतीय जनता पार्टी सरकार ने किया है। दूसरी ओर कांग्रेस और हेमंत सोरेन जी। हेमंत सोरेन से पूछना चाहता हूं। भैया हेमंत जी जब झारखण्ड अलग राज्य के लिए गुरुजी आंदोलन कर रहे थे, भारतीय जनता पार्टी आंदोलन कर रही थी। उस समय झारखण्ड के युवाओं पर गोलियां चलाई जाती थी, डंडे बरसाए जाते थे। वह कौन पार्टी करती थी। यही कांग्रेस पार्टी जो झारखंड की रचना का विरोध करती थी। झारखंड का विरोध करने वालों के साथ सत्ता के लालच में कांग्रेस की गोद में बैठकर मुख्यमंत्री बनने हेमंत सोरेन निकले हैं।




Related Stories