ग्रीन चतरा में मिला एक कोरोना संक्रमित, पीड़ित का गांव कन्टेनमेंट जोन घोषित 

by -

प्रशासन ने संक्रमित मरीज के घर के आसपास के क्षेत्र को किया सील, कांटेक्ट ट्रेसिंग शुरू 

चतरा :

चतरा जिले में बुधवार को एक कोरोना संक्रमित पाया गया। गुरुवार को चतरा डीसी जितेंद्र कुमार सिंह ने एक प्रेस वार्ता में टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि की। उन्होंने बताया मरीज कान्हाचट्टी प्रखंड का रहने वाला है। वह 12 मई को मुंबई से लौटा था, जिसके पश्चात उसे कान्हाचट्टी स्थित सरकारी कोरेन्टाइन सेंटर में रखा गया था। 13 मई को उसकी टेस्ट सैंपल ली गई एवं रिपोर्ट प्राप्ति के पश्वात वह कोरोना संक्रमित पाया गया है।

कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद डीसी और एसपी ऋषभ झा सिविल सर्जन और जिले के अन्य पदाधिकारियों के साथ कान्हाचट्टी प्रखंड स्थित मरीज के गांव पहुंचे। संक्रमित मरीज के घर के आस-पास के क्षेत्र को जिला प्रशासन द्वारा कंटेनमेंट जोन घोषित कर बैरिकेडिंग करते हुए उक्त क्षेत्र में आवागमन को पूर्णत: वर्जित कर दिया गया है। मरीज के परिजन सहित आस पास के लोगों का भी सैंपल लिया जा रहा है। डीसी की निगरानी में संक्रमित व्यक्ति की विस्तृत कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग भी की जा रही है। पूरे कंटेनमेंट क्षेत्र को सैनिटाइज किया गया है।


डीसी ने बताया कि संक्रमित के प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से संपर्क में आने वालों को चिन्हित किया जा रहा है और इनफ्लूएंजा तथा सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या की जांच की जा रही है। प्रयास है कि अन्य संभावित संक्रमित व्यक्ति यदि हों तो उनको तत्काल चिन्हित कर आईसोलेट करते हुए चिकित्सीय सुविधा दी जा सके। साथ हीं कंटेनमेंट जोन या बफर जोन के संबंध में स्वास्थ्य विभाग के दिशा-निर्देश का पूर्ण रूप से पालन किया जा रहा है।

डीसी ने आगे कहा कि क्षेत्र को पूरी तरह से बैरिकेडिंग कर सील कर दिया गया है, ऐसे में लोगों का घरों से निकलना पूर्णतया प्रतिबंधित है। मजिस्ट्रेट एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। उक्त क्षेत्र में कंट्रोल रूम का गठन किया गया है, साथ हीं आवश्यक वस्तु की आपूर्ति कंटेन्मेंट जोन में घर-घर की जाएगी।

गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा चतरा जिले में कोरोना संक्रमित की पुष्टि के उपरांत हीं जिला प्रशासन द्वारा तत्काल कार्रवाई शुरू कर दी गई। उपायुक्त ने कहा कि वर्तमान में कोरोना संक्रमित मरीज को सदर अस्पताल, चतरा के कोविड वार्ड में ईलाज के लिए भर्ती कराया गया है एवं आवश्यकता पड़ने पर उन्हें हजारीबाग मेडिकल अस्पताल शिफ्ट किया जाएगा।

डीसी ने कहा कि जिलावासी न घबराए। वर्तमान स्थिति से निपटने हेतु जिला प्रशासन द्वारा तैयारियां पूर्ण है। गृह मंत्रालय, भारत सरकार/राज्य सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी निर्देशों का पूर्ण रूप से पालन किया जा रहा है। उन्होंने जिलावासियों से आग्रह किया है कि कोरोना वायरस के संभाव्य प्रसार को रोकने में सभी जिला प्रशासन का सहयोग करें- अनावश्यक अपने घरों से बाहर ना निकलें, मास्क का प्रयोग करें, नियमित हाथों को साबुन से धोयें या सैनिटाइजर का प्रयोग करें, यत्र-तत्र न थूकें, न हीं भ्रमक, आपुष्ट खबरों एवं अफवाहों पर ध्यान दें।




Related Stories