भ्रष्टाचार पर वार : एसीबी ने एग्जीक्यूटिव इंजीनियर और पंचायत सेवक को घूस लेते पकड़ा 

by -

सड़क और डोभा निर्माण योजनाओं में राशि निकालने एवज में रिश्वत मांग रहे थे 

सिमडेगा/डालटनगंज :

राज्य में भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ एसीबी की कार्रवाई जारी है। बुधवार को रांची एसीबी की टीम ने सिमडेगा में कार्रवाई करते हुए REO के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर अरविंद कुमार को एक लाख रुपये घूस लेते हुए गिरफ्तार किया है। अरविंद कुमार को गिरफ्तार करने का बाद ACB की टीम उसे अपने साथ रांची के लेकर निकल गयी।

वहीं एसीबी पलामू की टीम ने पांकी कार्रवाई करते हुए पंचायत सेवक विरोधी कुमार सिंह को चार हज़ार घूस लेते पकड़ा। बाद में घर की तलाशी के दौरान 44,500/- रूपये नकद बरामद किये गए।

जानकारी के अनुसार सिमडेगा REO विभाग के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर अरविंद कुमार ने बिल बनाने के नाम पर घूस मांगी थी। गौरतलब है कि किनकेल केरसई मालसाड़ा रोड होते हुए चारों टोली तक सड़क निर्माण कर रहे संवेदक लक्ष्मी इंटरप्राइजेज के प्रोपराइटर हेमंत कुमार घूस की मांग की गयी थी। बिल बनाने के नाम पर एक लाख की रिश्वत मांगी गयी थी। इसकी शिकायत हेमंत कुमार ने एसीबी से की थी। 


इंजीनियर अरविंद कुमार के द्वारा घूस मांगे जाने की शिकायत मिलने के बाद एसीबी ने मामले का सत्यापन कराया। सत्यापन के दौरान घूस मांगे जाने की बात सही पायी गयी। इसके बाद एसीबी की टीम ने बुधवार को कार्रवाई करते हुए इंजीनियर अरविंद कुमार को एक लाख रुपये घूस लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। 

वहीँ पलामू में अभिषेक कुमार ने शिकायत की थी कि अम्बाबार के पंचायत सेवक विरोधी सिंह डोभा निर्माण में लगे मजदूरों की मजदूरी भुगतान की राशि निकालने के एवज में घूस मांग रहे हैं। अभिषेक ने बताया था कि यह योजना उनकी माँ के नाम पर स्वीकृत की गई थी। 

एसीबी ने इस शिकायत का सत्यापन कराया और घूस मांगे जाने की सही पाए जाने पर बुधवार को कार्रवाई करते हुए पंचायत सेवक को वादी से चार हज़ार रूपये नकद घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। 




Related Stories