बिहार : पीएम के 71 वें जन्मदिन पर तालाब के बीच 71 नावों पर कटे 71 केक

हराही तालाब पर मछुआरा समाज के लोग 71 नावों पर अलग-अलग 71 केक रखे गए और तालाब के बीच में पहुंचकर उन्हें काटा 

बिहार : पीएम के 71 वें जन्मदिन पर तालाब के बीच 71 नावों पर कटे 71 केक

पटना :

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 71 वें जन्मदिन पर विभिन्न संगठन और लोग अपने-अपने तरीके से उनका जन्मदिन मनाकर उन्हें जन्मदिन की बधार्द और शुभकामनाएं भेज रहे हैं। इस बीच, बिहार के दरभंगा में मछुआरा समाज के नेता और भारतीय जनता पार्टी के विधान पार्षद अर्जुन सहनी ने अपने समाज के लोगों के साथ प्रधानमंत्री का जन्मदिन अनोखे तरीके से मनाया। प्रधानमंत्री के जन्मदिन के मौके पर तालाब के बीच 71 नावों पर 71 केक काटे गए तथा 71 किलोग्राम के बूंदिया के बने लड्डूनुमा केक को काटा गया।

इस जन्मदिन को मनाने के लिए पिछले कई दिनों से तैयारी चल रही थी। मिथिला क्षेत्र के कई गांवों के लोग यहां पहुंचे थे। ये लोग दरभंगा शहर के हराही तालाब के बीच नाव से पहुंचकर केक काट कर प्रधानमंत्री को बधाई दी।

बिहार : पीएम के 71 वें जन्मदिन पर तालाब के बीच 71 नावों पर कटे 71 केक

हराही तालाब पर मछुआरा समाज के लोग 71 नावों पर अलग-अलग 71 केक रखे गए और तालाब के बीच में पहुंचकर काटा गया।

इसके अलावे अलग से 71 किलोग्राम के बड़े लड्डूनुमा केक को खुद अर्जुन सहनी और दरभंगा शहर के विाायक संजय सरावगी ने काटा और बाद में नरेंद्र मोदी की तस्वीर को लड्डू खिलाकर उन्हें जन्मदिन की बधाई दी और उनकी लंबी उम्र की कामना की गई।

इस मौके पर लोग ढोल-नगाड़े की भी व्यवस्था थी। तालाब के किनारे बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे जिसमें महिलाएं भी शामिल थी। गौरतलब है कि मछुआरा समाज के लोग मछली पकड़ने के लिए अपने परंपरागत सामानों के साथ पहुंचे थे। तालाब के किनारे गुब्बारे और प्रधानमंत्री के बड़े-बड़े पोस्टर भी लगाए गए थे।

बिहार : पीएम के 71 वें जन्मदिन पर तालाब के बीच 71 नावों पर कटे 71 केक

भाजपा के नेता सहनी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ऐसे नेता हैं जिन्होंने मछुआरा समाज के कल्याण की कल्पना की और उसे सरजमीं पर उतारने में लगे हुए हैं। प्रधानमंत्री मछुआरा समाज की उन्नति के लिए लगातार काम कर रहे हैं, यही कारण है कि उनके जन्मदिन को स्थानीय मछअुारा समाज एक उत्सव के रूप में मना रहा है।

विाायक संजय सरावगी ने भी कहा कि नरेंद्र मोदी किसी खास वर्ग या समाज की नहीं बल्कि सभी की चिंता करते हैं। उन्होंने कहा कि आज विश्वकर्मा पूजा के दिन आधुनिक शिल्पकार का जन्मदिन मनाया जा रहा है।

देश की अन्य खबरें