एसीबी (ACB) ने 10 हज़ार रुपए रिश्वत लेते रोजगार सेवक को पकड़ा 

रोजगार गारंटी अधिनियम फॉर्म पर साइन करने के एवज़ में वादी से पैसे ले रहा था 

एसीबी (ACB) ने 10 हज़ार रुपए रिश्वत लेते रोजगार सेवक को पकड़ा 

डालटनगंज :

पलामू एसीबी (ACB) की टीम ने मंगलवार को एक घूसखोर रोजगार सेवक को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों धर दबोचा। रोजगार सेवक ने मनरेगा योजना में रोजगार गारंटी अधिनियम फॉर्म पर साइन करने के नाम पर घूस मांगी थी।गिरफ्तार रोजगार अब्दुल रहमान छतरपुर प्रखण्ड कार्यालय में कार्यरत है।

सम्बन्ध में छतरपुर थाना क्षेत्र के कंचनपुर गांव के रहने वाले नरेश कुमार यादव के पुत्र शंभू कुमार यादव (25) ने एसीबी से शिकायत की थी। उसने बताया था कि उसने मनरेगा योजना में काम किया था। राशि निर्गत कराने के लिए रोजगार गारंटी अधिनियम फॉर्म पर रोजगार सेवक का साइन जरूरी था। फॉर्म पर साइन करने के बदले रोजगार सेवक अब्दुल रहमान 10 हजार रुपए घूस की मांग कर रहा था। शंभू ने फॉर्म पर साइन करने के लिए अब्दुल रहमान से कई बार आग्रह किया। लेकिन उसने घूस लिए बिना साइन करने से इनकार कर दिया।

इसके बाद परेशान होकर शंभू ने इसकी शिकायत एसीबी के पलामू प्रमंडलीय कार्यालय में दर्ज कराई। ACB ने अपने स्तर से जांच में मामले को सही पाया। इसके बाद टीम का गठन कर रोजगार सेवक को शिकायतकर्ता से घूस लेते रंगे हाथों पकड़ लिया।

गिरफ्तार करने के बाद रोजगार सेवक को ACB कार्यालय लाया गया।

देश की अन्य खबरें