बिहार : कांग्रेस प्रभारी दास पहुंचे पटना, आपसी संघर्ष दिखाने वालों पर कार्रवाई के दिए संकेत

कहा सभी वर्ग, धर्म एवं संप्रदाय के कांग्रेसजनों के साथ मिलकर कांग्रेस की खोई प्रतिष्ठा बहाल करने का प्रयत्न करेंगे 

पटना :

पूर्व केंद्रीय मंत्री भक्त चरण दास बिहार के कांग्रेस प्रभारी बनाए जाने के बाद सोमवार को दूसरी बार पटना पहुंचे हैं। दास बिहार में 13 दिनों तक रहेंगे और कई जिलों का दौरा करेंगे। उन्होंने सोमवार को पटना पहुंचने के बाद नेताओं और कार्यकर्ताओं को चेतावनी देते हुए कहा कि जो कार्यकर्ता आपसी संघर्ष दिखाएंगें, उनपर कार्रवाई की जाएगी।

दास के पटना पहुंचने पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा सहित कांग्रेस के नेताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया।

दास ने कहा कि वे बिहार के सभी वर्ग, धर्म एवं सम्प्रदाय के कांग्रेसजनों से मिलकर एवं उनके सहयोग से बिहार में कांग्रेस की खोयी प्रतिष्ठा को प्राप्त करने का पूरा प्रयास करेंगे। इस क्रम में वे 27 जनवरी से जिलों का दौरा करेंगे तथा प्रथम चरण में 5 फरवीर तक जिलों का दौरा करेंगे।

इस क्रम में वे कांग्रेसजनों के सुझाव पर अमल कर कांग्रेस को पहले की भांति बिहार की मुख्य पार्टी बनाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि वे खुले दिल से बिहार के सभी कांग्रेसजनों से संवाद स्थापित करेंगे।

किसानों के आंदोलन पर कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास ने कहा कि किसानों के आंदोलन के समर्थन में मंगलवार को शांतिपूर्ण ढंग से तिरंगा यात्रा निकाली जाएगी।

दास के पटना पहुंचने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की और आगे की रणनीति पर विचार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं, कार्यकर्ताओं से मिलकर संवाद स्थापित कर पार्टी के नेताओं की बैठक कर कोई भी निर्णय लिया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि प्रभारी बनाए जाने के बाद दास की यह दूसरी बिहार यात्रा है। दास के पहले दौरे के क्रम में उनके सामने ही कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता आपस में उलझ गए थे। इसके बाद वरिष्ठ नेताओं के बीचबचाव के बाद मामला शांत हुआ था।

देश की अन्य खबरें