ट्रैक्टर से दबकर मरे युवक की पत्नी को भाजयुमो ने मुहैया कराया अनाज

भाजयुमो ने प्रशासन से मृतक के परिजनों को 10 लाख नगद और आश्रित पत्नी को नौकरी देने की मांग की

ट्रैक्टर से दबकर मरे युवक की पत्नी को भाजयुमो ने मुहैया कराया अनाज

सुनील नूतन/सतबरवा:

पलामू जिले के सतबरवा थाना क्षेत्र के हडमुड गांव के अमझरिया टोला के आदिम जनजाति परहिया समाज के युवक निर्मल परहिया के परिजनों से मिलकर भाजयुमो नेताओं ने अनाज मुहैया कराया है।

शुक्रवार को दुलसुलमा पंचायत अंतर्गत पड़ने वाले हुडमुड गांव के अमझरिया टोला अरविंद सिंह चेरो के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल मृतक के पत्नी सुरजी से मुलाकात की।


बताया गया कि गुरुवार को औरंगा नदी से बालू लादकर आ रहें ट्रैक्टर के चपेट में आने से निर्मल परहिया की मौत हो गई थी। जिसका दाह: संस्कार औरंगा नदी क्वार्टर घाट पर शुक्रवार को औरंगा नदी में किया गया।

शिष्टमंडल में चतरा सांसद के सतबरवा प्रतिनिधि सोनू सिकंदर, मुकेश कुमार गुप्ता, गुड्डू सिंह साथ थे। वही जानकारी के अनुसार निर्मल के मौत के आरोपी ट्रैक्टर समेत चालक फरार है।

प्रशासन से मृतक के परिजनों को 10 लाख नगर और आश्रित पत्नी को नौकरी देने की मांग की है।

वही पुलिस से आरोपी ट्रैक्टर चालक को पकड़ने का आग्रह भी किया गया।

इधर घटना के बाद सामाजिक कार्यकर्ता सह नारायण सेवा समिति के निर्दोष कुमार, अकलू बाबा तथा औरंगा बांध विरोधी संघर्ष समिति के अध्यक्ष जितेंद्र सिंह ने मृतक के परिजनों से मुलाकात की और बताया कि अमझरिया टोले में शत- प्रतिशत आदिम जनजाति परहिया समाज के 30 घर है।

ट्रैक्टर से दबकर मरे युवक की पत्नी को भाजयुमो ने मुहैया कराया अनाज

वही घर का कमाने वाला एकमात्र सदस्य निर्मल की मौत के बाद पत्नी तथा 3 नाबालिक पुत्रियों का रो-रो कर बुरा हाल बना हुआ है।

देश की अन्य खबरें