सतबरवा में सादगी से पढ़ी गई बकरीद की नमाज

आदाब-सलाम की रस्म दूर से निभाई, अल्लाह ताला से कोरोना से निजात दिलाने की दुआएं की 

सतबरवा में सादगी से पढ़ी गई बकरीद की नमाज

सुनिल नूतन/सतबरवा :

कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सतबरवा और लेस्लीगंज थाना क्षेत्र के कई गांवों में बकरीद का त्यौहार सादगीपूर्ण तरीके से मनाया गया। करमा गांव के सामाजिक कार्यकर्ता शमशाद अंसारी ने बताया कि मौलाना की अगुवाई में मस्जिदों में 5 लोगों ने नमाज अदा की।


अकीदत मंद नमाजियों ने क्षेत्र के लिए अमन चैन और सलामती तथा कोरोना महामारी से निजात दिलाने की अल्लाह ताला से दुआएं कीं। आदाब-सलाम की रस्म दूर से निभाया गया।

सतबरवा के जामा मस्जिद, नई मस्जिद, बकोरिया, चेतमा, ताबर, मुक्ता, बारी, सिंदुरिया, झाबर, पोलपोल और सोनपुरवा मस्जिद और ईदगाहों में सादगी से मौलाना के नमाज पढ़ी गई। लेस्लीगंज थाना क्षेत्र व सतबरवा प्रखंड के करमा ,बोहिता, धावाडीह, सेहरा, मानतगोरिया और चांपी के मस्जिदों में मौलाना के अगुवाई में नमाज पढ़ी गई। सुख: शांति और भाईचारा कायम करने की अपील पैगंबर से की।

सतबरवा में सादगी से पढ़ी गई बकरीद की नमाज

मोहम्मद मोकर्रम ने बताया कि कोरोना बीमारी के चलते प्रत्येक लोगों का काम- धाम ठप पड़ गया है। पुराने और साफ-सुथरे कपड़े पहनकर अधिकतर लोगों ने नमाज पढ़ी।बकरीद ईमानदारी और सत्य की मार्ग पर चलने को प्रेरित करता है। 

मौके पर प्रत्येक मस्जिदों और ईदगाह पर पुलिस और दंडाधिकारी तैनात किए गए थे।

देश की अन्य खबरें