गर्मियों में आप घमौरियों और खुजली से परेशान हो जाते हैं तो करे घरेलू उपाय 

चंदन का प्रयोग करना काफी फायदेमंद होता है. गर्मियों में होने वाली खुजली की समस्या और घमौरी दूर करने का ये बहुत अच्छा उपाय माना जाता है.

ऑनलाइन डेस्क :

गर्मियां आते ही घमौरियां (Heat Rash) और खुजली (Itching) जैसी शिकायतें आम हो जाती है. धूप (Sunny) में बाहर निकते ही ये बर्दाश्त से बाहर हो जाती है. उसके बाद इंसान परेशान हो उठता है. जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती है वैसे-वैसे और तेजी से बढ़ती हैं. ज्यादा पसीना आने की वजह से ये अक्सर खुजली और कुछ लोगों को घमौरी की भी शिकायत हो जाती है.

आमतौर पर ये पीठ (Back), छाती (Chest), अंडरआर्म्स (underarms)) और कमर (waist) के आसपास होती है, लेकिन अगर इसे नजरअंदाज किया जाए तो यह शरीर के बाकी हिस्सों में भी हो सकती हैं.

बता दें कि जब लगातार बहुत अधिक पसीना निकलता है और टाइट कपड़ों की वजह से पसीना त्वचा के अंदर ही रह जाता है तो शरीर के उस हिस्से में खुजली और दाने होने लगते हैं. ऐसे में इनका ठीक न किया जाए तो ये परेशानी पैदा करने लगते हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू टिप्स बताने जा रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप गर्मी की खुजली और घमौरी से निपट सकते हैं.

ऐलोवेरा देगा फायदा

गर्मियों में ऐलोवेरा का इस्तेमाल स्किन के लिए काफी फायदेमंद होता है. ऐलोवेरा में एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टीज मिलती है. जो रैशेज यानी खुजली और घमौरियों को दूर करने में मदद करती हैं. इसके साथ ही ऐलोवेरा की तासीर ठंडी होती है. इसलिए ये स्किन में जलन और रेडनेस को दूर करने में मदद करता है. शरीर के जिस हिस्से में खुजली या घमौरियों की समस्या हो वहां पर ऐलोवेरा जेल लगाने से फायदा पहुंचता है. इसके लिए उस स्थआन पर 15 मिनट के लिए ऐलोवेरा लगाकर छोड़ दें. उसके बाद इसे पानी से धो लें. दिनभर में 2-3 बार ऐसा करने पर काफी फायदा होगा.

पानी में ओट्स मिलाकर नहाएं-

गर्मियों में पसीने की ग्रंथियां (sweat ducts) बंद हो जाती हैं (clogged) उनकी वजह से भी स्किन पर दाने और घमौरी होने लगती हैं. अगर आप ओट्स का प्रयोग करते हैं तो ये स्किन के पोर्स और डक्ट्स को खोलने में मदद करता है. इसके साथ ही ये स्किन में जलन से भी राहत दिलाता है. अगर आप पानी में ओटमील डालकर उसी पानी से नहाते हैं तो फायदा मिलता है. इसके लिए प्रभावित हिस्से पर हल्के हाथ से ओट्स से स्क्रब करना चाहिए. इसका इस्तेमाल सप्ताह में 2-3 बार किया जा सकता है.

मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग करें

त्वचा के बंद पोर्स यानी रोमछिद्र को खोलने में मुल्तानी मिट्टी बहुत मदद करती है. साथ ही इसके प्रयोग से घमौरियों से भी छुटकारा मिलता है. बता दें कि मुल्तानी मिट्टी भी ठंडी होती है जो स्किन को अंदर से कूल डाउन करने में मदद करती है. इसके लिए मुल्तानी मिट्टी में गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बना लें और प्रभावित हिस्से पर लगाएं. इस पेस्ट को 15 मिनट के लिए लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो दें. काफी फायदा होगा.

चंदन देता है ठंडक

गर्मियों में स्किन पर चंदन का प्रयोग करना काफी फायदेमंद होता है. गर्मियों में होने वाली खुजली की समस्या और घमौरी दूर करने का ये बहुत अच्छा उपाय माना जाता है. इसके लिए चंदन पाउडर में थोड़ा सा ठंडा दूध मिलाकर पेस्ट बना लें और शरीर के प्रभावित हिस्से पर लगाएं. कुछ देर सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें.

सूती कपड़ों का करें इस्तेमाल

गर्मियों के दिनों में घमौरियां और रेशेज जैसी समस्या से बचने के लिए सूती कपड़ों का इस्तेमाल सबसे अच्छा माना जाता है. इस मौसम में ढीले-ढाले सूती कपड़े पहनने. जिससे शरीर के अंदर हवा पहुंचती है जो आपको ठंडा रखती है और पसीना नहीं निकलता. इसलिए हल्के रंग के कॉटन फैब्रिक के कपड़े पहनना इस मौसम में अच्छा रहता है.

देश की अन्य खबरें