लो ब्‍लड प्रेशर को न करें इग्‍नोर

आमतौर पर लो ब्‍लड प्रेशर में दवाओं की जरूरत नहीं पड़ती. लेकिन कुछ आयुर्वेदिक नुस्‍खों (Home Remedies) को अपनाकर हम अपने ब्‍लड प्रेशर को नॉर्मल (Normal) कर सकते हैं.

ऑनलाइन डेस्क :

हाई ब्‍लड प्रेशर की तरह लो ब्‍लड प्रेशर भी सेहत (Health) के लिए कई मायनों में नुकसानदेह (Harmful) होता है. इसे हाइपोटेंशन ( Hypotension) भी कहा जाता है. आम तौर पर हमारा ब्‍लड प्रेशर 120/80 होना चाहिए लेकिन ब्‍लड प्रेशर इससे नीचे जाता है तो इसे लो ब्‍लड प्रेशर (Low Blood Pressure) कैटेगरी में समझा जाता है. ब्‍लड प्रेशर लो होने पर शरीर के जरूरी ऑर्गन्‍स जैसे ब्रेन, लंग्‍स, किडनी आदि में ठीक तरह से खून की सप्‍लाई नहीं हो पाती जिससे ब्रेन स्‍ट्रोक, किडनी फे‍लियर और हार्ट अटैक की नौबत भी आ सकती है.



आमतौर पर लो ब्‍लड प्रेशर होने पर दवाओं की जरूरत नहीं होती. हम लाइफ स्‍टाइल मेंं बदलाव लाकर इसका इलाज कर सकते हैं. 

आइए जानते हैं कुछ आयुर्वेदिक नुस्‍खे जिन्‍हें अपनाकर हम अपने लो ब्‍लड प्रेशर को तुरंत नॉर्मल कर सकते हैं.

अदरक

अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े करें, इसमें नींबू का रस और सेंधा नमक मिलाकर एक जार में रख दें. रोजाना इसे थोड़ी-थोड़ी मात्रा में दिन में 3-4 बार खाएं. कुछ ही दिनों में ब्‍लड प्रेशर नॉर्मल होने लगेगा.
टमाटर

टमाटर के रस में काला नमक, काली मिर्च डालकर पिएं. कुछ दिनों के लगातार सेवन से इसका असर दिखने लगेगा.

चुकंदर का रस

लो ब्‍लड प्रेशर में चुकंदर का रस काफी फायदेमंद है. रोजाना सुबह शाम इसका जूस पिएं. आपको बहुत अंतर दिखेगा.

खजूर

खजूर को दूध में उबाल लें और रोज पिएं. आप चाहें तो ब्रेकफास्‍ट में खजूर खा सकते हैं. यह आपके ब्‍लड प्रेशर को नॉर्मल बनाने में बहुत फायदेमंद है.

दालचीनी

कुछ टुकड़े दालचीनी पानी में उबाल लें और इसे सुबह शाम पिएं. यह लो ब्‍लड प्रेशर में बहुत काम आता है.

छाछ

छाछ में नमक, भूना जीरा, हींग मिलाकर इसका सेवन रोजाना करें. यह आपके ब्‍लड प्रेशर को सामान्‍य रखेगा.

आंवला

आंवला के ताज़े रस में अगर आप शहद डालकर खाते हैं तो यह लो ब्‍लड प्रेशर में काफी फायदा पहुंचाता है. आंवला को आप मुरब्‍बा या कैंडी के रूप में भी रोजाना खा सकते हैं.

किशमिश

लो ब्लड प्रेशर होने पर किशमिश खाना भी बहुत फायदेमंद होता है. रात में थोड़ा किशमिश भिगो दें और सुबह खाली पेट इसका सेवन करें. इससे लो प्रेशर में लाभ मिलेगा.

गाजर

लो ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में गाजर भी बहुत मदद करता है. गाजर के रस में एक चौथाई पालक का रस मिलाकर पिएं तो यह और भी फायदेमंद बन जाता है.

लो ब्‍लड प्रेशर के क्‍या हैं लक्षण थकान, डिप्रेशन, जी मचलाना, प्यास लगना, त्वचा में पीलापन, शरीर ठंडा पड़ जाना, आधी-अधूरी और तेज सांस लेना, सीने में दर्द, अनियमित धड़कन, गर्दन अकड़ जाना आदि इसके सामान्‍य लक्षण हैं. अगर ज्यादा लंबे समय तक लो ब्लड प्रेशर की समस्या रही तो उल्टी, बेहोशी, अत्यधिक थकान, कुछ समय के लिए धुंधला या कुछ दिखाई न देना आदि भी इसके लक्षण हैं.

देश की अन्य खबरें