पति ने पत्नी की प्रेम कहानी जानकर उसे प्रेमी को सौंप दिया, कहा - जाओ खुश रहो दोनों

शादी के 16 दिन बाद पति को अपनी पत्नी की प्रेम कहानी का पता चला

पति ने पत्नी की प्रेम कहानी जानकर उसे प्रेमी को सौंप दिया, कहा - जाओ खुश रहो दोनों

रांची :

झारखण्ड में एक अनोखी प्रेम कहानी सामने आई है। यह कहानी है राधेश्याम महली (22), उसकी नवविवाहिता पत्नी रिया (19) और रिया के प्रेमी मुरली साहू (21) की। पति ने पत्नी की प्रेम कहानी जानकर पत्नी को प्रेमी को सौंप दिया और कहा 'जाओ खुश रहो दोनों'। 

रातू के चिपरा निवासी राधेश्याम ने शादी के महज 16 दिनों बाद ही पत्नी रिया का हाथ उसके प्रेमी मुरली को सौंप दिया, ताकि उसकी पत्नी के प्रेम को अपना मुकाम मिल सके। और कहा- जाओ खुश रहो दोनों। 

मालुम हो कि रिया न्यू आनंद नगर हरमू रोड की रहने वाली है और मुरली सुखदेव नगर का। मंगलवार को एकनारनामे में तीनों ने हस्ताक्षर भी कर दिए।

पति ने पत्नी की प्रेम कहानी जानकर उसे प्रेमी को सौंप दिया, कहा - जाओ खुश रहो दोनों

दरअसल, राधेश्याम और रिया की तीन जुलाई को रातू के महादेव टंगरा मंदिर में शादी हुई थी। रिया जब ससुराल गई तो पति को उसकी प्रेम कहानी के बारे में पता चला।

प्रेमी मुरली से मिलने ससुराल से भाग गई रिया, तब सामने आया मामला

दैनिक भास्कर में छपी खबर के अनुसार पति राधेश्याम के आश्वासन के बाद भी रिया का मन बेचैन रहने लगा। अंतत: कुछ दिन पहले वह ससुराल से भागकर अपने प्रेमी मुरली के पास पहुंच गई। अचानक रिया के गायब होने से घर में हड़कंप मच गया।

रिया के मायके में संपर्क किया गया तो बताया गया कि वह वहां नहीं है। राधेश्याम को माजरा समझते देर न लगी। राधेश्याम और उसके परिजन सोमवार को मुरली के घर गए और रिया को मनाकर अपने साथ रातू ले आए।

ससुराल वालों के लाख समझाने पर भी जब वह नहीं मानी तो राधेश्याम और उसके परिजनों ने घर में विचार-विमर्श किया। राधेश्याम के कहने पर निर्णय लिया गया कि रिया को उसके प्रेमी के साथ ही रहने दिया जाए। मंगलवार को मुरली और उसके परिजनों को रातू प्रखंड मुख्यालय बुलाया गया। वहां एग्रीमेंट पेपर तैयार होने के बाद तीनों पक्षों की ओर से हस्ताक्षर किए गए।

पति बोला-मुरली और रिया में बेइंतहा प्यार, ऐसा नहीं होता तो 3 जिंदगियां बर्बाद हो जातीं

इधर राधेश्याम ने कहा रिया ने शादी से पहले ही यह बात बता दी होती तो यह नौबत भी नहीं आती। मैं जान गया था कि मेरी पत्नी मन से मेरे साथ जिंदगी में बराबर की हिस्सेदार कभी नहीं बन पाएगी, क्योंकि वह मुरली को बेइंतहा प्यार करती है। ऐसे में एक साथ तीन जिंदगियां बर्बाद हो जातीं। इसलिए अंतत: मैंने यह निर्णय लिया।

मैंने प्यार किया है,सात जन्मों तक निभाऊंगा - मुरली साहू

वहीं प्रेमी मुरली साहू ने कहा कि हमारा प्रेम संबंध डेढ़ वर्ष से चल रहा है। हमारे परिवार को भी इसकी जानकारी है। फिर भी रिया के घर वालों ने उसकी शादी चोरी-छिपे कर दी। अब चूंकि, रिया मेरे पास आ गई है तो यह प्रेम बंधन सात जन्मों तक निभाऊंगा।

देश की अन्य खबरें