पत्नी के कत्ल के आरोप में पति जेल में, पत्नी मिली जिन्दा

परिजनों ने अज्ञात लड़की की पहचान अपने बेटी के रूप में की थी और दामाद पर हत्या का आरोप लगाया था

पत्नी के कत्ल के आरोप में पति जेल में, पत्नी मिली जिन्दा

डालटनगंज :

पलामू के हरिहरगंज थाना क्षेत्र के बघना गांव में हैरतअंगेज करने वाली घटना सामने आई है। कुछ दिन पहले नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र के जिस खुश्बुन्नीशा को मृत समझकर परिजनों ने दफना दिया था, वह रविवार को छतरपुर के बाजार में जिंदा मिली।

सूचना पर पहुंची छतरपुर पुलिस ने महिला को अपनी कस्टडी में ले लिया है और मामले की छानबीन शुरू कर दी है। लेकिन इस घटना से पूरे इलाके में हड़कंप मचा है। सबके जेहन में एक ही सवाल है कि घरवालों ने जिसे दफनाया आखिर वो कौन है। बहरहाल पुलिस शव को कब्र से बाहर निकालकर डीएनए टेस्ट कराने की तैयारी में है। 

बता दें कि 8 सिंतंबर को नग्नावस्था में एक युवती का अज्ञात शव मिला था। युवती के चेहरे पर पत्थर से वार किया गया था। 9 सितंबर को शव की पहचान जाबिर अंसारी की पत्नी खुश्बुन्नीशा के रूप में उसके मायके वालों ने की थी। साथ ही पति पर हत्या करने का आरोप लगाया।

यह भी पढ़ें :

पलामू : बिहार और झारखंड के सीमावर्ती बघना जंगल से किशोरी का नग्न शव बरामद

परिजनों ने पुलिस को बताया था कि तीन दिनों से खुशबू अपने बेटे के साथ गायब है। उसके पति ने उसकी हत्या की है। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए महिला के पति को हत्या के आरोप में जेल भी भेज दिया है।

छतरपुर में देखी गई महिला

इसी बीच खुश्बुन्निशा को पहचानने वाले एक व्यक्ति ने उसे छत्तरपुर में देखा। फौरन पुलिस को इसकी सूचना दी। तब खुशबू के जिंदा होने की बात सामने आई। छत्तरपुर में महिला थाना की टीम खुशबू से पूछताछ कर रही है कि बच्चे के साथ वह क्यों गायब हुई। क्या उसके मायके वालों ने सच में बेटी को पहचानने में चूक कर दी या जानबूझकर उसके पति को फंसाने के लिए कोई साजिश रची गई है।

देश की अन्य खबरें