टी-20 विश्व कप 2021 का कार्यक्रम हुआ जारी, ढाई साल बाद फिर भिड़ेंगे भारत-पाकिस्तान

टूर्नामेंट की शुरुआत 17 अक्तूबर से होगी जबकि फाइनल 14 नवंबर को खेला जाएगा 

ऑनलाइन डेस्क :

टी-20 विश्व कप में एक बार फिर भारत और पाकिस्तान की भिड़ंत देखने को मिलेगी, क्योंकि सुपर-12 स्टेज में दोनों टीमों को एक ही ग्रुप में जगह मिली है। ये दोनों टीमें ग्रुप-दो में हैं। इस ग्रुप में न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान की टीमें भी हैं। वहीं, सुपर-12 के ग्रुप-एक में इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज को रखा गया है। हर ग्रुप में छह-छह टीमें होंगी।

ग्रुप की अन्य टीमों का फैसला विश्व कप के क्वालिफायर राउंड के नतीजों से तय होगा। बता दें कि कोरोना महामारी के कारण टी-20 विश्व कप 2021 का आयोजन भारत की बजाय संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और ओमान में किया जाएगा। टूर्नामेंट की शुरुआत 17 अक्तूबर से होगी जबकि फाइनल 14 नवंबर को खेला जाएगा।

टी-20 विश्व कप 2021 का कार्यक्रम हुआ जारी, ढाई साल बाद फिर भिड़ेंगे भारत-पाकिस्तान

16 टीमों का टूर्नामेंट यूएई के तीन शहरों (दुबई, शारजाह और अबुधाबी) और ओमान में खेला जाएगा।

ग्रुप 1:

ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज, विजेता ग्रुप ए, उपविजेता ग्रुप बी 


ग्रुप 2:

भारत, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान, विजेता ग्रुप बी, उपविजेता ग्रुप ए
 
ग्रुप ए:

श्रीलंका, आयरलैंड, नीदरलैंड, नामीबिया


ग्रुप बी:

बांग्लादेश, स्कॉटलैंड, ओमान, पापुआ न्यू गिनी
करीब ढाई साल बाद फिर भिड़ेंगे भारत-पाकिस्तान


बता दें कि करीब ढाई साल बाद आईसीसी के किसी बड़े टूर्नामेंट में दोनों टीमों के बीच भिड़ंत होगी। इससे पहले दोनों टीमें 16 जून 2019 को विश्व कप के दौरान आमने-सामने हुईं थीं। इस मैच में भारत ने पाकिस्तान को 89 रन से हराया (डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर) था। इससे पहले साल 2016 में टी-20 विश्व कप के दौरान दोनों टीमें आमने सामने हुए थे। इस मैच में भारत ने पाकिस्तान को छह विकेट से हराया था। वहीं, आईसीसी के किसी बड़े टूर्नामेंट में दोनों टीमों की भिड़ंत करीब ढाई साल पहले हुई थी। 2019 विश्व के दौरान दोनों टीमों की भिड़ंत हुई थी।

दुबई और ओमान के दौर पर हैं बीसीसीआई के अधिकारी


बीसीसीआई के अधिकारी इस समय दुबई और ओमान के दौर पर हैं। यहां वे टी-20 विश्व कप की तैयारियों का जायजा लेने आए हैं। अधिकारी यहां स्टेडियमों का मुआयना करेंगे और विश्व कप से संबंधित मुद्दों पर बातचीत करेंगे। इसके अलावा अधिकारी टीमों की यात्रा योजना पर भी चर्चा करेंगे क्योंकि क्वालीफायर वहां होने हैं, परसों यानी 17 जुलाई को दुबई में आईसीसी के साथ बैठक होगी। ईसीबी के अधिकारी भी वहां मौजूद रहेंगे।


पहले दौर में चार टीमें करेंगी क्वालिफाई


मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक राउंड-1 में 12 मैच होंगे जबकि आठ टीमें शामिल होंगी। इनमें से चार (प्रत्येक समूह से शीर्ष दो) सुपर 12 के लिए क्वालिफाई करेंगी। आठ टीमों (बांग्लादेश, श्रीलंका, आयरलैंड, नीदरलैंड, स्कॉटलैंड, नामीबिया, ओमान, पापुआ न्यू गिनी) में से क्वालिफाई हुईं चार टीमें शीर्ष आठ रैंकिंग वाली टी20 टीमों में शामिल होकर सुपर 12 में पहुंचेंगी। पहला दौर यूएई के एक स्थल के अलावा ओमान में होगा जिससे सुपर 12 के मैचों के लिए यूएई के मुख्य मैदानों की पिचों को तैयार करने के लिए पर्याप्त समय मिल जाएगा।
 
सुपर-12 चरण में होंगे 30 मैच 


सुपर 12 का चरण, जिसमें 30 मैच शामिल हैं, 24 अक्तूबर से शुरू होने की संभावना है। सुपर 12 में टीमों को छह-छह के दो समूहों में विभाजित किया जाएगा, जो यूएई में तीन स्थानों (दुबई, अबू धाबी और शारजाह) में खेला जाएगा। इसके बाद तीन प्लेऑफ मैच होंगे दो सेमीफाइनल और फाइनल। 

देश की अन्य खबरें