मध्य प्रदेश: Covid-19 Vaccine से वॉलंटियर की मौत?

परिवार के आरोप के बाद मचा हड़कंप

ऑनलाइन डेस्क :

भारत में कोरोना वायरस वैक्सीन के टीकाकरण की तैयारियों के बीच मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक भोपाल में 21 दिसंबर, 2020 को एक दिहाड़ी मजदूर दीपक मरावी (Deepak Maravi) की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई.

बताया जा रहा है कि दीपक कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल के प्रतिभागी थे। परिवार का आरोप है कि दीपक की मौत कोरोना वायरस की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) की वजह से हुई है।

सरकार और वैक्सीन कंपनी पर लगाया आरोप

रिपोर्ट के मुताबिक 47 वर्षीय वर्षीय दीपक मरावी की मौत पिछले वर्ष 21 दिसंबर को हुई। वह टीला जमालपुरा स्थित सूबेदार कॉलोनी स्थित अपने घर में मृत पाए गए। परिवार का आरोप है कि कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल में वॉलंटियर थे और उनकी मौत वैक्सीन के डोज से हुई है। परिवार ने यह भी आरोप लगाया कि, दीपक मरावी के कोविड-19 वैक्सीन वॉलंटियर होने के बावजूद ना ही राज्य सरकार की तरफ से दी गई और ना ही वैक्सीन निर्माता कंपनी ने फॉलोअप किया। इसके अलावा परिवार को भी इस बात की जानकारी नहीं दी गई थी कि दीपक मरावी के कोविड-19 वैक्सीन वॉलंटियर हैं।

हरकत में आई पुलिस

मामला प्रकाश में आने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है, अब पुलिस भी हरकत में आ गई है। दीपक मरावी की संदिग्ध मौत को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है और यह जानने की कोशिश कर रही है कि दीपक को किस कंपनी की वैक्सीन दी गई थी। हालांकि दीपक की मौत कोरोना वायरस वैक्सीन से हुई है या कोई और वजह है, इसका खुलासा पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट के आने के बाद ही होगा। इस बीच पुलिस को मृतक दीपक की विसरा रिपोर्ट सौंप दी गई है। मामले की जांच की जा रही है।

देश में Coronavirus का तांडव जारी

गौरतलब है कि भारत में कोरोना वायरस का कहर जारी है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का कहना है कि देश में एक दिन के भीतर कोरोना वायरस के 18,222 नए मामले, 19,253 रिकवरी और 228 मौत दर्ज की गई हैं। जिसके बाद मामलों की कुल संख्या 1,04,31,639 हो गई है। इसमें 1,00,56,651 रिकवरी, 2,24,190 सक्रिय मामले और 1,50,798 मरीजों की मौत शामिल है। आपको बता दें कोरोना वायरस के कहर के बीच दुनिया के कई देशों में टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। भारत में जल्द ही ये प्रक्रिया शुरू होने वाली है। लेकिन फिर भी कई देशों में स्थिति पहले से भी ज्यादा खराब है।

कोरोना वैक्सीन पर PM मोदी करेंगे चर्चा

आपको बता दें कि भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सीन नामक दो वैक्सीन को आपातकाल स्थिति में इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी गई है। इस बीच टीकारण को लेकर भी तैयारियां जोरो-शोरों पर है। इसी क्रम में 11 जनवरी, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशभर के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। ये बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग क जरिए होगी, जिसमें राज्यों में कोरोना संक्रमण क हालात और कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण को लेकर चर्चा की जाएगी।

 

देश की अन्य खबरें