पलामू : इंटर-स्टेट गैंग के नौ अपराधी गिरफ्तार, रेहला के व्यापारी से 2 करोड़ रंगदारी मांगने समेत अन्य मामलों का खुलासा

गिरफ्तार अपराधियों में चार झारखंड जबकि अन्य यूपी और छत्तीसगढ़ के रहने वाले हैं

पलामू : इंटर-स्टेट गैंग के नौ अपराधी गिरफ्तार, रेहला के व्यापारी से 2 करोड़ रंगदारी मांगने समेत अन्य मामलों का खुलासा


डालटनगंज : अपराधियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान में पलामू पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने रेहला के व्यवसायी राजन कुमार सोनी से दो करोड़ रूपए रंगदारी मांगने के आलावा विभिन्न लूटकांडों में शामिल 9 इंटर स्टेट गैंग के अपराधियों को गिरफ्तार किया है। 

गिरफ्तार आरोपियों में रेहला थाना क्षेत्र के चार और अन्य यूपी, छतीसगढ के रहने वाले हैं। 

गिरफ्तार अपराधियों के पास से 7.65 एमएम की तीन पिस्टल, तीन मैग्जिन, इसी की सात गोली, 315 बोर का तीन देशी कट्टा, इसी हथियार की 5 गोली, रंगदारी मांगने में इस्तेमाल मोबाइल, सिमकार्ड, अलग अलग लूटकांड का 10 हजार रूपए, घटना में इस्तेमाल एक समेत तीन मोटरसाकिल, एक स्कूटी आदि बरामद की गयी है। 

 


बुधवार को अपने कार्यालय कक्ष में एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने जानकारी दी कि 17 जनवरी को रेहला के व्यवसायी राजन कुमार सोनी को अज्ञात अपराधियों ने मोबाइल पर दो करोड़  रूपए की रंगदारी मांगी थी। नहीं देने पर परिवार को जान से मारने की धमकी दी गयी थी। उसी दिन शाम लगभग 7.20 बजे राजन की दुकान पर दो राउंड फायरिंग की गयी थी। 18 से 19 जनवरी के बीच रंगदारी के लिए फोन पर धमकी दी गयी। 

मामला दर्ज होने पर विश्रामपुर के एसडीपीओ सुरजीत कुमार के नेतृत्व में टीम बनायी गयी और तकनीकी शाखा के सहयोग से कार्रवाई तेज की गयी। टीम ने 
 छापामारी करते हुए 9 अपराधकर्मियों को उतरप्रदेश, छतीसगढ़ समेत अन्य इलाकों से गिरफ्तार किया। 

 

एसपी ने आगे बताया कि पूछ्ताछ में इन अपराधियों द्वारा हथियार दिखाकर 22.7.22 को पड़वा के द्वारपार सीएसपी, 22.12.2022 को नावाबाजार के कंडा सीएसपी, 27.12.2022 को उंटारी रोड थाना क्षेत्र के पांडेपुरा सीएसपी एवं 30.12.2022 को विश्रामपुर के बंधन बैंक को एक के बाद एक कर लूटने की बात स्वीकार की गई। 

अंतरराजीय गिरोह का मुख्य सरगना आनंद दुबे उर्फ अभय उतरप्रदेश एवं छतीसगढ़ के कई थानों से रंगदारी, लूट, डकैती एवं आर्म्स एक्ट के कई कांडों में जेल जा चुका है। 

 

पूछताछ के दौरान अपराधियों के द्वारा यह भी बताया गया कि उनकी योजना छतरपुर, पिपरा, हरिहरगंज, पड़वा, पाटन एवं सदर थाना क्षेत्र में भी सीएसपी को लूटने की थी। इसके लिए सेंटरों की रेकी की गयी थी। 

इनकी हुई गिरफ्तारी :

अपराधियों की पहचान आनंद कुमार दुबे (33वर्ष) पिता स्व. गिरधारी दुबे, मचिया कला, चंदौली उतरप्रदेश,  दिव्यांश शुक्ला (23वर्ष), पिता सिपाही लाल शुक्ला ग्राम बनकसियां शिवरतन सिंह मनकापुर गांडा उतरप्रदेश, आशुतोष दीक्षित (19वर्ष), पिता प्रदीप कुमार दीक्षित हाउस नंबर 315 गोमती नगर, विभूतिखंड लखनउ यूपी, स्थायी पता ग्राम इमिलिया गुरू दयाल, कोतवाली, गांडा यूपी, अभिषेक तिवारी उर्फ शक्ति (19वर्ष), पिता रमेश कुमार तिवारी मोहनलाल गंज, बहादर खेड़ा लखनउ, स्थायी पता न्यू इंदिरा आवास कॉलोनी कोतवाली नगर, गांडा यूपी, श्याम प्रसाद (24वर्ष), पिता महेन्द्र साव मायापुर रेहला, सुरज कुमार पासवान (20वर्ष) पिता सुनील कुमार, धरती डोलवा विंडमगंज, सोनभद्र यूपी, वर्तमान पता रेलवे कॉलोनी रेहला, कवलधारी विश्वकर्मा (36वर्ष) मायापुर रेहला, अमित कुमिर विश्वकर्मा (19वर्ष) मायापुर रेहला एवं शिवा सत्यम (20वर्ष), पिता भरत सत्यम, खैरताल, भाटापारा ग्रामीण बलोदा छतीसगढ़ के रूप में हुई है। 


 

छापामारी दल में पु.नि. अजय कुमार, पु.नि. सुदामा दास, रेहला थाना प्रभारी नेमधारी रजक, विश्रामपुर थाना प्रभारी शशि रंजन, पु.अ.नि. अलख नाथ चौबे, पु.अ.नि. कुणाल रजा, स.अ.नि. रामचन्द्र चौधरी, स.अ.नि. कुशेश्वर सिंह, ह. राजेश्वर प्रसाद, मो. जावेद, अमित कुमार यादव, शिव गुप्ता एवं सशस्त्र बल के जवान शामिल थे। 

देश की अन्य खबरें