पलामू किला को मिलेगी नयी पहचान, किला के संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर बनी कार्ययोजना

लातेहार डीसी, एएसआई के पुरातत्ववेत्ता और नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय के इतिहासकार ने किया पलामू किला का निरीक्षण

पलामू किला को मिलेगी नयी पहचान, किला के संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर बनी कार्ययोजना

लातेहार :

पलामू प्रमंडल के ऐतिहासिक धरोहर पलामू किला को नयी पहचान मिलने कर मार्ग प्रशस्त हो गया है। लातेहार के डीसी अबु इमरान की पहल पर पलामू किला के संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर पुरातत्ववेत्ता, इतिहासकार, अधिकारियों एवं विशेषज्ञों ने मंगलवार को नए और पुराने पलामू किलों का दौरा किया।

इस दौरान टीम ने किला संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर महत्वपूर्ण पहलूओं पर अवलोकन किया। विशेषज्ञों ने किला के एतिहासिक स्वरूप को बिना बदले ही संरक्षण एवं जीर्णोद्धार करने की बात कही। नीलांबर-पीतांबर के इतिहासकारों के द्वारा किला के एतिहासिक स्वरूप को बिना बदले ही संरक्षण एवं जीर्णोद्धार करने की बात कही गयी।किला के संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर प्रस्ताव बनाकर सरकार को अनुमोदन के लिए भेजा जायेगा। 

पलामू किला को मिलेगी नयी पहचान, किला के संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर बनी कार्ययोजना

निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त अबु इमरान ने बताया कि पलामू किला के नए एवं पुराने किला के संरक्षण एवं जीर्णोद्धार करने की योजना है। जिसको लेकर भारतीय पुरातात्विक विभाग एवं विशेषज्ञों के द्वारा किला का अवलोकन किया जा रहा है। संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर प्रस्ताव तैयार किया जाएगा एवं आने वाले समय में इसका संरक्षण एवं जीर्णोद्धार का कार्य किया जाएगा।

इसके पहले लातेहार डीसी ने बरवाडीह प्रखंड सह अंचल कार्यालय भवन में एएसआई के विशेषज्ञ, इतिहासकार, अधिकारियों, स्थानीय जनप्रतिनिधियों और प्रबुद्ध जनों के बैठक कर पलामू किला को देश के पर्यटन मानचित्र पर लाने पर विचार किया। उन्होंने चेरो राजा के वंशजों और प्रबुद्धजनों से किला के विकास में सहयोग करने की अपील की।

पलामू किला को मिलेगी नयी पहचान, किला के संरक्षण एवं जीर्णोद्धार को लेकर बनी कार्ययोजना

मौके पर भारतीय पुरातात्विक विभाग के क्षेत्रीय प्रबंधक डा एस के भगत, संग्रहालयाध्यक्ष रांची के डॉ. मो. शरफुद्दीन, सांस्कृतिक कार्य निदेशालय रांची के प्रकाश कुमार वर्मा, एनपीयू के प्रभारी विभागाध्यक्ष इतिहास डॉ. अवध किशोर पाण्डेय, अनुमंडल पदाधिकारी शेखर कुमार, आइटीडीए निदेशक श्री विन्देश्वरी ततमा, पलामू व्याघ्र परियोजना उप निदेशक आशीष कुमार, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी बरवाडीह राकेश सहाय समेत अन्य विभागों के पदाधिकारी और स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

देश की अन्य खबरें