अनानास के छिलकों में हैं गजब के फायदे

छिलके में ब्रोमालाइन नाम का एक एन्जाइम पाया जाता है. इससे शरीर में खून बनने में भी मदद मिलती है.

ऑनलाइन डेस्क :

अनानास एक ऐसा फल है जिसमें विटामिन बी, फोलेट, थायमाइन, पेंटाथेमिक एसिड, ब्रोमेलेन, नायसिन जैसे पोषक तत्व मौजूद हैं. ये फल विटामिन सी और फाइबर के गुणों से भरपूर होता है. इसे आप चाहें खाएं या इसका जूस पिएं. दोनों ही बहुत फायदेमंद साबित होता है.

लेकिन क्या आप जानते हैं अनानास ही नहीं बल्कि इसका छिलका भी पोषक तत्वों से भरपूर होता है. जो हमारे शरीर में होने वाली कई बीमारियों का रोकथाम कर सकता है. अनानास के छिलके में मैग्नीशियम, पोटेशियम, कॉपर, मैंगनीज, कैल्शियम, आयरन से भरपूर होता है. इसके छिलके से सेहत पर किस तरह से फायदेमंद है चलिए आपको बताते हैं.

इसके छिलके में विटामिन सी पाएं जाने के कारण ये हमारे शरीर में होने वाले इंफेक्शन से बचाता है. विटामिन सी और ब्रोमालाइन की मौजूदगी केे कारण पाइनएप्पल के ये छिलके बैक्टीरिया से लड़ने में शरीर की मदद करते हैं, कफ और खांसी को ठीक करते हैं साथ ही घावों को भी ठीक करने में मदद करते हैं.सीधी भाषा में कहा जाए तो ये इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए काफी कारगर होते हैं.

इसी के साथ पाइन एप्पल के तने और छिलके में ब्रोमावाइन नामक एक एंजाइम पाया जाता है जो रक्त का थक्का बनाने में काफी मददगार होता है. इसका छिलका शरीर में सूजन को कम करने में भी मददगार साबित होता है. किसी भी चोट या सर्जरी के बाद की सूजन को कम करने में ये मदद करता है. साथ ही इससे साइनस में भी राहत मिलती है.

अनानास के अंदर के गूदे की तुलना में इसका बाहरी छिलका वाला हिस्सा बहुत सख्त होता है और ये स्वाद में भी थोड़ा कड़वा होता है. लेकिन अच्छी बात ये है कि ये फाइबर से भरपूर होता है. इसके सेवन से डाइजेशन की प्रक्रिया बेहतर होती है. छिलके में ब्रोमालाइन नाम का एक एन्जाइम पाया जाता है. इससे शरीर में खून बनने में भी मदद मिलती है.

इस तरह से करें सेवन-

अनानास का छिलका सख्त और थोड़ा कड़वा होता है इसलिए आप उसे थोड़ा-थोड़ा करके खा सकते हैं या फिर इसके मीठे पल्प के साथ भी खा सकते हैं ताकि आपको कड़वाहट महसूस ना हो.

देश की अन्य खबरें