मौत का कारण बन सकती है आपकी एक छींक

छींक रोकने से रप्चर इयर ड्रम की समस्या का शिकार हो सकते हैं.

ऑनलाइन डेस्क :

छींक आना स्वस्थ्य जीवन के लिए बहुत जरूरी होता है। कई लोग छींक रोक लेते हैं क्योंकि उन्हें पब्लिक प्लेस पर छींकना अच्छा नहीं लगता। छींक रोकना सेहत के लिए काफी हानिकारक हो सकता है।

दरअसल, छींक हमारी जिंदगी और मौत से जुड़ी होती है, छींक इतनी तेज आती है कि इससे हमारी जान जाने का भी डर होता है। इसलिए छींक आने पर हमारे आस पास के लोग अक्सर हमें ‘गॉड ब्लेस यू’ कहते हैं।


छींक रोकने से कानों में प्रेशर पैदा होता है जिसके कारण रप्चर इयर ड्रम की समस्या देखने को मिल सकती है. कई बार छींक रोक लेने से गले में भी बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. इससे बोलने और कोई चीज निगलने में भी समस्या आ सकती है. छींक रोक कर रखने से हवा में प्रेशर इकठ्ठा होने की वजह से बुजुर्गों में पसली भी डेमेज हो सकती हैं. 

देश की अन्य खबरें