शिक्षकों ने काला बिल्ला लगाकर किया वित मंत्री के बयान के प्रति जताया विरोध

शिक्षकों ने कहा वित मंत्री का गैर जिम्मेदराना बयान बर्दाश्त नहीं

शिक्षकों ने काला बिल्ला लगाकर किया वित मंत्री के बयान के प्रति जताया विरोध

दीपक भगत/चंदवा:

झारखंड के वित मंत्री रामेश्वर उरांव के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों के प्रति दिए गए बयान की अखिल भारतीय झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ चंदवा ने निंदा की है। संघ के अध्यक्ष चंद्रमण राम के नेतृत्व में शिक्षकों ने काला बिल्ला लगाकर एक स्वर में विरोध प्रकट किया।

शिक्षकों ने कहा कि राज्य के वित्त मंत्री का शिक्षकों के प्रति दिया गया बयान गैर जिम्मेदाराना है। इसे बर्दाश्त नही किया जाएगा। सरकारी शिक्षक मेहनत कर अध्यापन कार्य रहे हैं। जिसका परिणाम है कि मैट्रिक एवं इंटर की परीक्षा में बेहतर रिजल्ट देखने को मिल रहा है। वैश्विक महामार काल में चाहे अनाज का वितरण करना हो अथवा प्रवासी मजूदरों को उनके घर तक पहुंचाना हो, सभी कार्याें में बढ़-चढ़कर योगदान दिया। वर्तमान समय में सभी कार्य शिक्षकों से ही कराया जाता है। वैसे में वित मंत्री का यह बयान शर्मनाक है।

उन्होंने आगे कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता सरकारी स्कूलों के बच्चों की अव्वलता प्रदर्शित करती है। प्रतिकूल परिस्थितियों में भी सरकारी स्कूल बेहतर रिजल्ट दे रहे हैं। शिक्षकों ने कहा कि यदि वित्त मंत्री के इस गैर जिम्मेदाराना बयान पर सूबे के मुख्यमंत्री संज्ञान लेकर उचित कार्रवाई नहीं करते हैं तो विभिन्न शिक्षक संघ चरणबद्ध तरीके से आंदोलन करेगा।

मौके पर प्रबंधन समिति के आशीष कुमार के साथ शिक्षक अनिल कुमार, लाल प्रशांत नाथ शाहदेव, पौलूस केरकेट्टा, प्रमोद कुमार, विनीत कुमार, रंदन मुंडा, लाल उदित नाथ शाहदेव, कांति टोप्पो, शिवनारायण महतो, प्रिया कुमारी समेत अन्य मौजूद थे।

देश की अन्य खबरें