चतरा में AK-47 और गोलियों के साथ नक्सली कमांडर गिरफ्तार

by -

सीआरपीएफ और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में टीएसपीसी के सब जोनल कमांडर ननकू गंझू को पकड़ा गया 

चतरा :

चतरा ज़िले में टीपीसी (TPC) नक्सलियों (Naxal) के विरुद्ध सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता मिली है। सीआरपीएफ (CRPF) और पुलिस (Police) की संयुक्त कार्रवाई में टीएसपीसी के सब जोनल कमांडर ननकू गंझू को गिरफ्तार कर लिया गया। उसे लावालौंग थानाक्षेत्र के होसिल गांव से गिरफ्तार किया गया है। उसके पास से एक एके-47 रायफल, 7.62 एमएम का 130 राउंड जिंदा कारतूस, दो मैगजीन, एक चितकबरा मैगजीन एवं गोली रखने का पाउच बरामद किया गया है। 

इससे पहले सोमवार को पुलिस ने दस लाख रुपये का इनामी टीएसपीसी जोनल कमांडर विकास उर्फ अविनाश उर्फ दशरथ गंझू को कुंदा थानाक्षेत्र से गिरफ्तार किया था। एसपी ऋषभ झा को मिली गुप्त सूचना के आधार पर जिला बल, सैट और झारखंड जगुआर की संयुक्त टीम ने कार्रवाई कर जोनल कमांडर को गिरफ्तार किया था। 


समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसपी ऋषभ झा ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि पीएसपीसी जोनल कमांडर परमजीत अपने दस्ते के साथ चतरा लातेहार सीमा पर स्थित लावालौंग थाना क्षेत्र के होसिर, टिकुलिया, सिलदाग, चुकु, सौरु और नावाडीह इलाके में किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में भ्रमण शील है। सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए एसडीपीओ सिमरिया वचन देव कुजूर के नेतृत्व में सिमरिया थाना प्रभारी लव कुमार सिंह, सैट 5, सैट 49 तथा लावालौंग में पदस्थापित सीआरपीएफ 190 बटालियन के जवानों को उक्त क्षेत्र में छापामारी अभियान चलाने का निर्देश दिया था। अभियान के दौरान ही होसिर गांव के समीप से सब जोनल कमांडर ननकू गंझू को हथियार के साथ गिरफ्तार किया गया। जबकि जोनल कमांडर परमजीत दस्ते के अन्य सदस्यों के साथ मौके से भागने में सफल रहा।

एसपी ने बताया कि परमजीत दस्ते ने ही सिमरिया थाना क्षेत्र के कासियातु व पलामू के पांकी ईलाके में जेसीबी समेत आधा दर्जन वाहनों में आग लगी और फायरिंग की घटनाओं को अंजाम दिया था। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार सब जोनल कमांडर के विरुद्ध चतरा लातेहार और पलामू के विभिन्न थानों में आधा दर्जन नक्सलवाद अपराधिक मामले दर्ज हैं।




Related Stories