कमोड पर बैठकर गलती से भी न करें मोबाइल फोन का इस्तेमाल

प्राइवेट पार्ट से निकल सकता है खून

ऑनलाइन डेस्क :

पश्चिमी सभ्यता के बाथरूम में सुबह-सुबह बैठकर लोग अखबार पढ़ते फिल्मों में दिखाई देते थे. अब आम लोगों ने भी इसे अपने जीवन का हिस्सा बना लिया है. जब से मोबाइल आया है लोग बाथरूम में बैठकर सर्फिंग या चैटिंग करने लगे हैं. इस चक्कर में काफी देर तक लोग कमोड में बैठे रह जाते हैं.

इस भागदौड़ भरी जिंदगी में समय की कमी लोगों के पास इतनी ज्यादा है कि ऐसा काम लोग नासमझी में कर देते हैं. हालांकि इसका खामियाजा जिंदगी भर भुगतना पड़ सकता है. लोग जब से देशी टॉयलेट की जगह वेस्टर्न टॉयलेट का इस्तेमाल करने लगे हैं तबसे उनकी आदतें और भी ज्यादा गंदी होती जा रही हैं.

57 प्रतिशत लोगों को बाथरूम में बैठकर फोन चलाने से होता है पाइल्स

यदि आप भी ऐसा करते हैं तो आपको तुरंत सावधान होने की जरूरत है. आपके सेहत को यह आदत बड़ा नुकसान पहुंचा सकती है. हाल के कुछ सालों में यह बात सामने आई है कि बाथरूम में बैठकर मोबाइल का इस्तेमाल करने से लोगों को पाइल्स की बीमारी हो रही है. जबकि पहले उन लोगों को पाइल्स की शिकायत होती थी, जो गलत खानपान या फिर शौच की गलत विधि का इस्तेमाल करते थे.

एक रिपोर्ट के अनुसार, आज के 57 प्रतिशत पाइल्स के शिकार लोगों में यह समस्या बाथरूम में बैठकर मोबाइल चलाने की वजह से हो रही है. कमोड पर बैठकर मोबाइल चलाने वाले लोगों में सिर्फ पाइल्स ही नहीं वरन् स्वास्थ्य से जुड़ी कई अन्य भी समस्याएं भी हो रही हैं. डॉक्टर्स कहते हैं कि कमोड पर बैठकर मोबाइल का इस्तेमाल करना हम सबको गंभीर रूप से बीमार बना रहा है.

मोबाइल के कारण लोग ज्यादा देर बैठे रहते हैं तक कमोड पर

डॉक्टर्स कहते हैं कि लोग बहुत बार मोबाइल के कारण काफी ज्यादा देर तक कमोड पर बैठे रहते हैं. इसकी वजह से उनमें पाइल्स या हैमरायड्स का खतरा बढ़ जाता है. जिससे उनके प्राइवेट पार्ट से खून आने लगता है. जितनी देर तक आप बाथरूम में बैठकर मोबाइल फोन का इस्तेमाल करेंगे, उससे आपके एनस और लोअर रेक्टम की मांसपेशियों पर खिंचाव पड़ेगा. जिससे पाइल्स का खतरा बढ़ जाता है. 

देश की अन्य खबरें