रोके जाने पर चालक ने युवक पर अवैध बालू लदा ट्रैक्टर चढ़ाकर ले ली जान

मृतक की पत्नी ने ट्रैक्टर मालिक और उसके चालक की पहचान कर मामला दर्ज कराया

रोके जाने पर चालक ने युवक पर अवैध बालू लदा ट्रैक्टर चढ़ाकर ले ली जान

सुनील नूतन/सतबरवा:

पलामू जिले के सतबरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत हुडमुड गांव के अमझरिया टोला में गुरुवार को अवैध बालू लदे ट्रैक्टर को रोक रहे आदिम जनजाति  के निर्मल परहिया (30) को गुस्साए चालक ने ट्रैक्टर चढ़ा कर मार डाला। 

घटना की जानकारी मिलते ही सतबरवा पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पंचनामा तैयार कर मेदिनीनगर एमएमसीएच से पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को शाम 7:00 बजे के करीब सौंप दिया है।


थानाप्रभारी ऋषिकेश राय ने बताया कि कांड संख्या 4/2022 दर्ज कर पुलिस छानबीन कर रही है। मामला गैर इरादतन का प्रतीत हो रहा है। परंतु पुलिस हर पहलू पर छानबीन कर रही है।

बताया जाता है कि ट्रैक्टर चालक औरंगा नदी के क्वार्टर घाट पर बालू लेने जा रहा था। अवैध तरीके से बालू उठाने जाने के दौरान मृतक युवक से बकझक हुई थी।

बालू लेकर लौट रहे चालक ने सड़क किनारे खड़े युवक पर गुस्से में ट्रैक्टर का पहिया युवक के सिर पर चढा दिया ।

आक्रोशित ग्रामीण युवक के चाचा जयराम परहिया, भाई बीरबल परहिया, संतोष कुमार ने बताया कि युवक ने उस सड़क से अवैध रूप से बालू ले जाने का विरोध किया था।

घटना 11:30 बजे दिन के करीब की है मृत युवक स्वर्गीय जमीदार परहिया का पुत्र था। कुछ साल पहले उसी टोले के टीमन परहिया के पुत्र प्रमोद परहिया (45) बालू लदे ट्रैक्टर से दबने से मौत हो गई थी।

 

ट्रैक्टर मालिक और उसके चालक की पहचान कर मृतक के पत्नी ने मामला दर्ज कराया है। वही पत्नी सुरती देवी व उसके तीन पुत्री है जिनकी उम्र क्रमशः छह,चार और 2 साल की है। पत्नी और बच्चे दहाड़े मारकर रो- रोकर हाल बेहाल है।

बताया गया कि मृत: युवक के आदिम जनजाति परहिया समाज के होने के चलते किसी का ध्यान परहिया समाज पर नहीं है।

रोके जाने पर चालक ने युवक पर अवैध बालू लदा ट्रैक्टर चढ़ाकर ले ली जान

ग्रामीणों के अनुसार औरंगा नदी के क्वार्टर घाट से रोज कई दर्जन ट्रैक्टरों से अवैध तरीके से बालू का उठाव का विरोध हमलोग बराबर करते रहते हैं। उक्त टोला में 25 आदिम जनजाति परहिया समाज के लोग रहते हैं।

देश की अन्य खबरें