48 घंटों में लचर बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं होने पर इंटक ने दी आंदोलन की चेतावनी 

सतबरवा के उपभोक्ता 'दिया तले अंधेरा' वाली कहावत के शिकार हो रहे

48 घंटों में लचर बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं होने पर इंटक ने दी आंदोलन की चेतावनी 

सुनील नूतन/सतबरवा :

पलामू जिले के सतबरवा पावर सब स्टेशन (पीएसएस) से बिजली आपूर्ति की लचर व्यवस्था में शीघ्र सुधार नहीं किए जाने पर इंटक ने आंदोलन करने की चेतावनी दी है। सतबरवा पीएसएस से की जाने वाली बिजली आपूर्ति में बार-बार पावरकट और लो-वोल्टेज की समस्या से लोग त्रस्त हैं।

इंटक ने विद्युत विभाग पलामू के ईई से आग्रह किया है कि बिजली व्यवस्था में विभाग सुधार करें अन्यथा विभाग के प्रति लोगों में व्यापक रोष है। इंटक जल्द ही आंदोलन करने को विवश होगा। 

इंटक प्रदेश सचिव विवेकानंद त्रिपाठी ने कहा है कि लहलहे नेशनल ग्रिड की गोद मे पोलपोल फीडर है। उपभोक्ता 'दिया तले अंधेरा' वाली कहावत के शिकार हो रहे हैं। भुसड़िया पीएसएस कब से बनकर तैयार है। सदर के चार पंचायतों को लहलहे एनटीपीसी ग्रिड भाया सुदना से जोड़ने से विरुद्ध व्यवस्था में सुधार हो सकता है।

उन्होंने बताया कि कार्यपालक अभियंता को पत्र के माध्यम से सूचना दिया गया है। 48 घण्टों में विभाग बिजली व्यवस्था में सुधार नहीं की तब विवश होकर इंटक आंदोलन करेगा। जिसकी सारी जवाबदेही विभाग की होगी।

वही ईई को ज्ञापन सौंपने वालों में मृत्युंजय तिवारी, भागीरथी चौधरी, ब्रजेश तिवारी, दिलीप तिवारी,बिष्णु तिवारी, आशीष तिवारी, दीपरंजन, करीमन अंसारी, रिंकू चौधरी समेत कई लोगों का नाम शामिल है।

देश की अन्य खबरें