झारखण्ड बना जीरो कोविड राज्य, 33 महीने के बाद कोविड का एक भी मरीज नहीं 

24 घंटे पहले प्रदेश में कोविड का एकमात्र मरीज पूर्वी सिंहभूम में था, वह शुक्रवार को नेगेटिव हो गया

झारखण्ड बना जीरो कोविड राज्य, 33 महीने के बाद कोविड का एक भी मरीज नहीं 

रांची :

झारखंड देश का आठवां जीरो कोविड प्रदेश बन गया है। अब इस प्रदेश में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। 24 घंटे पहले प्रदेश में कोविड का एकमात्र मरीज पूर्वी सिंहभूम में था। उसे विगत 27 नवंबर को कोविड पॉजिटिव पाया गया था। शुक्रवार को उसके रिकवर होने के साथ ही 30 मार्च 2020 यानी लगभग 33 महीने के बाद पहली बार राज्य में कोविड का कोई एक्टिव केस नहीं है।

हालांकि स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि कोविड को लेकर सतर्कता आगे भी जारी रहेगी। टेस्टिंग और ट्रैकिंग का फामूर्ले पर अभियान चलता रहेगा ताकि भविष्य में कोई केस आने पर तत्परतापूर्वक इलाज किया जा सके।


झारखंड में कोविड का पहला केस 31 मार्च 2020 को रांची के हिंदपीढ़ी में मिला था। मलेशिया की रहने वाली एक प्रवासी युवती कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में अब तक कोरोना के 2 करोड़ 29 लाख 27 हजार 18 सैंपल कलेक्ट किए किए गए। इनमें से 2 करोड़ 24 लाख 82 हजार 806 की रिपोर्ट निगेटिव और 4 लाख 42 हजार 567 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। राज्य में 4 लाख 37 हजार 236 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। इस बीमारी की वजह से राज्य में अब तक कुल 5 हजार 331 लोगों की जान गई।

देश की अन्य खबरें