बिना ग्राम सभा के धुमकुडिया भवन निर्माण करने पर ग्रामीणों ने जमकर किया विरोध

उपायुक्त को आवेदन देकर आदिवासी बहुल क्षेत्र में बनाने की मांग

बिना ग्राम सभा के धुमकुडिया भवन निर्माण करने पर ग्रामीणों ने जमकर किया विरोध

रुपेश कुमार/लातेहार :

जिले के चंदवा प्रखंड के चेतर पंचायत के ग्राम आन गांव के सैकड़ों महिला-पुरुष, आदिवासी पड़हा राजा समेत कई ग्रामीणों ने उपायुक्त के जनता दरबार में पहुंचकर गांव में बन रहे धुमकुड़िया भवन का विरोध जताया।

ग्रामीणों ने कि बिना ग्राम सभा के बगैर दूसरे स्थान पर धुमकुड़िया भवन बनाया जा रहा है। जहां आदिवासी की संख्या नहीं के बराबर है। उस गांव में आखड़ा के बगल में सरकारी जमीन है। उस स्थान में धुमकुड़िया भवन बनने से आदिवासी समाज के सरना संस्कृति का विकास होगा।

Latehar Public school 2
Latehar Public School

धुमकुड़िया भवन का काम बंद नही हुआ तो आदिवासी समाज के लोग सड़क पर उतरकर पूरे जोर विरोध प्रर्दशन करेंगे। उन्होंने कहा कि गांव में बिचौलियों के द्वारा सांकेतिक जनजाति विकास आईटीडीए के माध्यम से ओबीसी टोला में धुमकुड़िया भवन का निर्माण कराया जा रहा है।

पड़हा राजा जय राम भगत, शीला देवी, रमेश उरांव, सरजू राम, फुलमनी देवी, शांति देवी, लालदेव भगत समेत सैकड़ों ग्रामीण लोग शामिल थे।

देश की अन्य खबरें